वेद उनियाल की तीसरी पुण्यतिथि पर उक्रांद ने उन्हें दी श्रद्धांजलि

0
3

देहरादून । उत्तराखंड राज्य प्राप्ति आंदोलन में अग्रिम पंक्ति के नेता, उक्रांद के रणनीतिकारों में से एक रहे वेद उनियाल को उक्रांद परिवार ने तीसरी पुण्यतिथि पर भावभीनी श्रद्धांजलि दी। श्रधांजलि सभा महानगर अध्यक्ष सुनील ध्यानी ने आयोजित की। स्व. वेद उनियाल को श्रधांजलि देते हुये सुनील ध्यानी ने कहा कि वेद भाई का उत्तराखंड राज्य आंदोलन में अहम भूमिका के साथ रणनीति बनाने में वेद भाई रहे है।
अपने छात्र जीवन में डी०ए०वी० डिग्री कालेज में महासचिव पद पर रहते हुए छात्रों की मांगों को लेकर पूरे उत्तराखंड विधालयों के छात्र नेताओं के साथ आंदोलन में अपना योगदान दिया। उत्तराखंड क्रान्ति दल के अहम पदों पर रहते हुए वेद उनियाल जी ने अपने दायित्वों को बखूबी निभाया। विशुद्ध राजनीति के प्रतीक थे, युवाओं के प्रेणास्रोत व मार्गदर्शक रहे। स्व० वेद उनियाल के योगदान को कभी भुलाया नही जा सकता।आज उनके सिद्धांतो पर युवाओं को चलना चाहिये। विगत 4 दिन पूर्व समाजसेवक व पत्रकार स्व० राजेन्द्र नेगी के अकस्मात निधन पर श्रधांजलि सभा मे याद करते हुए उनके अस्मर्णीय योगदान को कभी भुलाया नही जा सकता है उनको श्रधांजलि दी गयी। इस अवसर पर त्रिवेंद्र सिंह पंवार, बीडी रतूड़ी, ए पी जुयाल, लताफत हुसैन, बहादुर सिंह रावत,जय प्रकाश उपाध्याय,जयदीप भट्ट,प्रताप कुँवर, विजय बौड़ाई, राजेन्द्र बिष्ट, अशोक नेगी,उत्तम रावत, धर्मेंद्र कठैत,विजेंदर रावत,गिरीश मेंदोला,अनिल डोभाल,नवीन भदुला, राजेन्द्र नेगी,नवीन वर्मा,मनोज वर्मा,अजय रमोला,मिनांक्षी घिल्डियाल, किरण रावत कश्यप आदि उपस्थित रहे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY