रामनगर में “आप” की टीम ने कोरोना संक्रमण प्रभावितों को अस्पताल पहुंचाने से लेकर हर तरह की सहायता देने को बढ़ाया हाथ..

0
197

रामनगर में “आप” की टीम ने कोरोना संक्रमण प्रभावितों को अस्पताल पहुंचाने से लेकर हर तरह की सहायता देने को बढ़ाया हाथ..
जागो ब्यूरो रिपोर्ट:

आम आदमी पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष शिशुपाल रावत कोरोना महामारी के इस दौर में समाज को राहत देने हेतु एक नयी पहल की है,उन्होंने रामनगर के उप जिलाधिकारी को चिट्ठी लिखकर कोरोना महामारी में लोग पॉजिटिव पाये गये लोगों को उनके घर से ले जानाहो,हॉस्पिटल से दूसरे हॉस्पिटल पहुंचाना हो,या फिर जो लोग कोरोना मैं अपनी जिंदगी हार जाते हैं,उनको श्मशान घाट तक पहुंचाने का कार्य हो,यह सारा कार्य अपनी टीम द्वारा किये जाने का प्रस्ताव रखा है,ये प्रस्ताव उन कोरोना संक्रमितों हेतु है,जिन्हें उनके परिवार भी हाथ लगाने से कतराते हैं!रावत ने बताया कि उनकी टीम पूरी जिम्मेदारी लेकर इस तरह के कार्य कर समाज को इस मुसीबत की घड़ी में राहत देना चाहती है,उन्होंने बताया कि दाह संस्कार करने की जिम्मेदारी लेने हेतु भी उनकी टीम गठित है,उन्होंने समाज के सभी जागरूक वर्गों का आह्वान किया कि मानवता के लिये इस आपात स्थिति में हम सभी को कोविड के नियमों का पालन करते हुए शासन-प्रशासन की मदद करनी चाहिये,क्योंकि कोरोना काल में लगातार काम कर रहे हैं डॉक्टरों, नर्सों,सफाई कर्मचारियों, पुलिस,पीआरडी,होमगार्ड के जवानों और प्रशासन के अन्य लोगों को भी थोड़ा राहत मिलनी चाहिये, उन्होंने सभी फ्रंट लाइन कोरोना वॉरियर्स का आभार प्रकट करते हुये कहा कि उन्होंने उन्हीं की प्रेरणा से ग्यारह सदस्यीय टीम बनायी है,जो कोरोनावायरस आपदा से निबटने में अपना योगदान करेगी।

उन्होंने बताया कि पिछले साल जैसे ही कोरोना वायरस शुरू हुआ था,तो उन्होंने आम आदमी पार्टी के कार्य- कर्ताओं  के साथ मिलकर करीब 40,000 लोगों को ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन लेवल नापने, मास्क और सैनिटाइजर आदि रामनगर विधानसभा से लेकर अन्य स्थानों में भी वितरण का काम किया, रावत का कहना है कि यदि समाज के जागरूक लोग भी इस आपदा से डरने लगे तो आम जनता की स्थिति और भी ज्यादा भयानक हो सकती है!इसलिए जो लोग सामर्थ्यवान है,उन लोगों को समाज की मदद को आगे आना चाहिये,रावत ने अपनी टीम का भी आभार प्रकट करते हुये कहा कि वे लोग कोरोना महामारी के इस नाज़ुक दौर में लगातार लोगों के बीच रहकर उनकी मदद कर रहे हैं।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY