बाफटेक ने पेश की कोरोना से बचाव व जांच की नई मशीन

0
7

देहरादून । बाॅॅफटेक ने कोरोना तथा वायुजनित बीमारियों से बचाव व जांच हेतु आरपी 3302 मशीन लांच की है। बाफटेक  का दावा है कि यह मशीन कोरोना जांच के मौजूदा परीक्षण के मुकाबले अधिक सरल और सक्षम है।
बफटेक के सीईओ डा0 किरणजय, सेल्स डायरेक्टर पुनीत कुमार, मैनेजिंग, डायरेक्टर के0 अमारा ने आज परेड ग्राउण्ड स्थित उज्वल रेस्टोरेन्ट में पत्रकारांे से बातचीत करते हुए कोरोना के रोकथाम की इस मशीन की खूबियां बतायी। उन्होंने बताया कि यह मषीन बाईपोलर है जो आयोनाईजिंग तथा रियलटाईम मोनिटरिंग करती है और भारत के उच्च संस्थान बीएचयू व आईसीआर  द्वारा प्रमाणित है। उन्होने बताया बफटेक द्वारा कोविड-19 के लिए यह मषीन यूएसए  नासा की टेक्नोलाॅजी द्वारा अंतरिक्ष प्रोग्रामिग में अनेक प्रकार के जीवाणुओं व किटाणुओं (सभी प्रकार के वायरस) के खात्में के लिए प्रयोग की जाती है।
बफटेक की मैनेजिंग डायरेक्टर ने बताया कि बफटेक की यह मशीन उत्तराखण्ड में भी उपलब्ध है। प्रदेश के अस्पतालों, क्लीनिक, शिक्षक संस्थानों, होटल्स, और बेनक्वेट हाॅल, सैलून, वृद्धा आश्रमों, स्पा, पिक्चर हाॅल, माॅल्स व अन्य सभी आबादी वाले क्षेत्रों तथा घरों में इनका प्रयोग किया जाता है। राज्य सरकार के समस्त संस्थानों व कार्यालयों से भी बातचीत कर उनके साथ भागीदारी की जायेगी। उन्होंने बताया कि कोविड-19 की महामारी के इस दौर में समाज के समस्त नागरिकों को कोरोना तथा वायु जनित अनेक बीमारियों से 99 प्रतिशत प्रमाणिकता के साथ बचाव करने में सक्षम है। इस मषीन में किसी भी प्रकार के कैमिकल की व किसी भी प्रकार की फिल्टर की आवश्यकता नहीं पड़ती। न ही इसके रखरखाव में परेशानी है। यह मशीन 15 वाट  से 35वाठ तक की बिजली का प्रयोग करती है। आयोनाईजिंग मशीन होने के कारण इस मषीन का प्रयोग करने पर किसी यूवीसी मशीन, एयर प्योरिफायर, सैनेटाईजर और किसी भी प्रकार के कैमिकल का प्रयोग नहीं करना पडता।  रियलटाईम मोनिटरिंग के कारण यह मशीन इसके कार्य क्षेत्र के अन्दर आने वाले कोरोना तथा अन्य वायु जनित बीमारियों से पीडित व्यक्ति की सांसों द्वारा वायरस छोड़ने पर उन वायरस को खत्म तो करती ही है साथ ही समस्त षरीर व अन्य प्रयोग में आने वाले किसी भी प्रकार की वस्तु पर लगे वायरस को भी समाप्त कर देती है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY