भागवत आचार्य डा. संजय सरीन ने की कथा की अमृत वर्षा

0
12

देहरादून । शिव सेना परिवार देहरादून द्वारा कोरोना महामारी की शांति व विश्व कल्याण के लिए कोविड-19 के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए करवाई जा रही भागवत कथा में मथुरा वृंदावन से पधारे प्रखर भागवत आचार्य डा. संजय सरीन ने कथा की अमृत वर्षा की।
रुक्मणी विवाह कथा में आज रुकमणी विवाह का प्रसंग धूमधाम से मनाया गया श्रद्धालुओं ने भजनों की मधुर धुन पर नृत्य किया तथा इस अवसर पर शिवसेना परिवार के उत्तराखंड प्रमुख गौरव कुमार ने परिवार के साथ व्यास जी को उपहार इत्यादि भेंट किए मंडप को इस अवसर पर विवाह मंडप की तरह सजाया गया था। कथा से पूर्व जनपद के सीओ सिटी शेखर सुयाल ने भी कथा का स्मरण किया। उन्होंने अपने संबोधन में शिवसेना द्वारा लॉकडाउन में किए जा रहे जरूरतमंदों की सहायतार्थ कार्य और विशेष रूप से रक्तदान कार्यक्रम की सराहना की। कथा में जब आज महारास का पसंद आया तो कन्हैया के साथ-साथ उपस्थित श्रद्धालु भी विशेष परिधान में डांडिया नृत्य करने लगे और प्रभु की भक्ति में लीन हो गए कथा के सुनने से होता है समस्त पापों का सर्वनाश
व्यास जी ने कहा कि जो भगत पवित्र कथा का स्मरण करता है वह जीते जी ही समस्त पापों से मुक्त हो जाता है यह पवित्र भागवत कथा कहती है जीवन में जितना भी हो इस पवित्र कथा का स्मरण करना चाहिए इसकी विशेषता यह है कि जितनी बार आप कथा का श्रवण करेंगे उतनी बार ही आपको कुछ नया स्मरण करने को मिलता है इस अवसर पर सर्वश्री गौरव कुमार,बार एसोसिएशन के अध्यक्ष मनमोहन कंडवाल सचिव अनिल शर्मा, माननीय खजान दास, विकास, के साथ ही उमेश मिनोचा विकास मल्होत्रा चेतन मिनोचा, अमित करणवाल ,पंकज तायल, विजय गुलाटी, शिवम गोयल अभिनव बेदी, वासु गौरव, मनोज सरीन,मीत अग्रवाल, अंकुर अग्रवाल के साथ ही विभिन्न संस्थाओं श्री पृथ्वीनाथ महादेव जी मंदिर सेवा दल, दिव्य ज्ञान पीठ देवभूमि ब्राह्मण सभा, अखिल भारतीय हिंदू क्रांति दल आदि के पदाधिकारी व प्रतिनिधि उपस्थित थे। कल भंडारे के साथ कथा का विश्राम होगा।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY