कोटद्वार में कोरोना संक्रमण काल में सामने आई मित्र पुलिस की बर्बरता!

0
633

कोटद्वार में कोरोना संक्रमण काल में आई मित्र पुलिस की बर्बरता!
जागो ब्यूरो रिपोर्ट:

कोटद्वार बीईएल रोड पर सड़क पर अपने भूखे गाड़ी चालको को रोटी देने आए युवक की पुलिस वालों ने पिटाई कर डाली!कोरोना संक्रमण काल मे मित्र पुलिस का आम जनमानस के साथ इस तरह का रवैय्या किसी भी तरह जायज़ नहीं ठहराया जा सकता,सवाल ये पैदा होता है कि जहाँ एक तरफ कोरोना महामारी की वजह से रोज कमाकर खाने वाले के लिये रोजी-रोटी का संकट पैदा हो गया है, ऐसे में यदि कोई भूखे को खाना देने का प्रयास करता है तो उसके साथ ऐसी बर्बरता क्यों?अभी कुछ दिन पहले उत्तराखण्ड के पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार ने एक वीडियो जारी कर पुलिस से कोरोना महामारी के दौर में मानवता से पेश आने की पहल की थी,लेकिन उनके संदेश को शायद कोटद्वार पुलिस समझ नही पाई,या उन पर उसका कोई असर नहीं हुआ ,कोटद्वार से इस तरह की घटना का सामने आना उन पुलिस कर्मियों के लिए भी दुखदायी है ,जो इस संकट में लोगों की रात-दिन सेवा में लगे हुए है,अब देखने वाली बात होगी कि पुलिस के उच्चाधिकारी इस तरह के व्यवहार पर क्या कार्यवाही करते है? इस सम्बन्ध में जब कोटद्वार अपर पुलिस अधीक्षक मनीषा जोशी से “जागो उत्तराखण्ड” ने बात की तो उन्होंने बताया कि पुलिस लॉकडाउन का पालन करवा रही थी! बाकी वहाँ मौजूद कर्मचारियों से पूछताछ के बाद ही मामले की सही जानकारी मिल पायेगी!बहरहाल इस तरह की घटना कोरोना संकट में समाज के लिये मिशाल बने अन्य पुलिसकर्मियों के मनोबल को बेशक़ ठेस पहुंचाएगी ही,ऐसे में पुलिस के उच्चाधिकारियों को गाहे-बगाहे घटित होने वाली इन घटनाओं को रोकने के तरीकों के बारे में गम्भीरता से विचार करना होगा।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY