6 जुलाई तक बढ़ा कोविड कर्फ़्यू,हाईकोर्ट की रोक के बावजूद 1 जुलाई से चार धाम यात्रा!

0
476

6 जुलाई तक बढ़ा कोविड कर्फ़्यू,हाईकोर्ट की रोक के बावजूद 1 जुलाई से चार धाम यात्रा!

जागो ब्यूरो रिपोर्ट:

प्रदेश में एक हफ्ते एक लिये 6 जुलाई तक कोविड कर्फ्यू को बढ़ा दिया गया है।नैनीताल हाईकोर्ट ने 1 जुलाई को शुरू होने वाली चारधाम यात्रा पर रोक लगायी हुयी है,बावजूद इसके उत्तराखण्ड सरकार ने 1 जुलाई से प्रथम चरण की चार धाम यात्रा शुरू करने की एसओपी कल देर सांय जारी कर दी है,जिसके तहत प्रथम चरण में रुद्रप्रयाग के निवासियों को केदारनाथ,चमोली के निवासियों को बद्रीनाथ और उत्तरकाशी के निवासी को यमुनोत्री और गंगोत्री के दर्शन के लिए अनुमति होगी। सभी दर्शन करने वालों के लिए कोविड नेगेटिव रिपोर्ट दिखाना अनिवार्य होगा,दूसरे चरण की चार धाम यात्रा 11 जुलाई से प्रारंभ की जायेगी और सभी उत्तराखण्ड राज्य के निवासियों के लिए अनुमति होगी,सभी को धामों में आने से पहले कोविड नेगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य होगा!इस बार राज्य सरकार ने काफी छूट दी हैं।अब सप्ताह में पाँच दिन के बजाए बाजार छः दिन खुलेंगे।हिल स्टेशन मसूरी और नैनीताल रविवार को भी खुलेंगे,लेकिन मंगलवार को बंद रहेंगे।प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवाओं के लिए कोचिंग और जिम सेंटर भी 50 प्रतिशत कैपेसिटी के साथ खोलने की अनुमति होगी। स्कूल के बच्चों की कोचिंग क्लास अभी फिलहाल बंद रहेंगी।वहीं कोरोना कर्फ्यू के दौरान अब दुकानों के खुलने का समय 5 बजे के बजाय 7 बजे तक तय किया गया है।अब राज्य में दो दिन यानी शनिवार व रविवार को पर्यटक स्थल भी खोल दिये गये हैं।जिसमें कि मसूरी, नैनीताल सहित अन्य पर्यटक स्थल भी शामिल होंगे,पर्यटक स्थलों में साप्ताहिक बन्दी मंगलवार या बुधवार को होगी।बाहरी प्रदेशों से आने वालों को स्मार्ट सिटी पोर्टल पर पंजीकरण कराना और 72 घंटे पहले की निगेटिव आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट लाना अनिवार्य होगा। बाहर से उत्तराखण्ड आने वाले प्रवासियों को पूर्व की तरह सात दिवसों तक गाँव में स्थापित आइसोलेशन सेंटर में रहना होगा।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY