मौत: महिला की संदिग्ध मौत, आरोपी को शीघ्र अति शीघ्र कस्टडी में लिया जाने के निर्देश…

0
8

श्रीनगर में एक 34 वर्षीय विवाहिता की मौत के मामले में मृतका के परिजनों द्वारा शिकायत मिलने पर उत्तराखण्ड राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष ने संज्ञान लिया है।

शिकायत में मृतका के परिजनों ने राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष कुसुम कण्डवाल को बताया कि उनकी पुत्री का विवाह 2012 को ग्राम ओडियारी, पो० काण्डाखाल जिला पौडी गढ़वाल निवासी राजेश कुमार के साथ हुआ था। राजेश कुमार मेरी बेटी व तीन बच्चों के साथ नागेश्वर गली श्रीनगर में किराये पर रहता है। राजेश कुमार शादी के कुछ समय से ही मेरी पुत्री से अक्सर शराब पीकर मारपीट करता था। और पैसो की मांग करता था। शराब पीने के कारण वह कई बार अपनी डयूटी पर भी नही जाता था। और परिवार को पैसों की तंगी रहती थी। वह अक्सर शराब पीने के लिए रीता से पैसे मांगता था। और पैसे न देने पर मार पीट करता था। काण्डाखाल में रहने के दौरान भी राजेश ऐसा ही करता था जिसमें उसके परिवार के लोग भी साथ देते थे। बीते 30 जून 2024 की रात लगभग 11.38 बजे के दौरान मेरी तीसरे नम्बर की लडकी ने राजेश के मोबाइल पर सुनीता से वीडियो कॉल पर बात करने के लिए कॉल की पर उसे वीडियो कॉल में मेरी बेटी अचेत अवस्था मे लेटी दिखाई दे रही थी। जिसके बाद अगले दिन दिनाँक 01 जुलाई 2024 को प्रातः श्रीनगर आने पर ज्ञात हुआ कि मेरा बेटी की मृत्यु हो चुकी है। मृतका के शरीर को श्रीकोट बेस अस्पताल की मोर्चरी में रखा है। उन्होंने कहा कि मुझे पूर्ण विश्वास है कि मेरी बेटी रीता की हत्या उसके पति राजेश ने मारपीट कर के कर दी है।

मामले की जानकारी होने पर आयोग अध्यक्ष कुसुम कण्डवाल ने तत्काल एसपी पौड़ी गढ़वाल से फोन पर वार्ता करते हुए निर्देशित किया कि शक के आधार पर आरोपी को शीघ्र अति शीघ्र कस्टडी में लिया जाये तथा इस संवेदनशील प्रकरण की जांच में कोई भी पहलू ना छुटे, हर पहलू पर गंभीरता से जांच होनी चाहिए साथ ही उन्होंने कहा कि मृतका की हत्या के मामलें के आरोपी के विरुद्ध शीघ्रता से कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

जिस पर एसएसपी पौड़ी गढ़वाल ने बताया कि करवाई की जा रही है इसमें जांच चल रही है मृतका का पोस्टमार्टम किया गया है जिसकी रिपोर्ट के आने का इंतजार किया जा रहा है। रिपोर्ट के आते ही हत्या सिद्ध होने पर कार्रवाई करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत कर जेल भेजा जाएगा।

आयोग अध्यक्ष कुसुम कण्डवाल को मृतका के परिजनों ने मृतका के गले पर चोट इत्यादि के निशान की फोटो भी दिखाई है।

महिला आयोग की अध्यक्ष कुसुम कण्डवाल ने एसएसपी पौड़ी को निर्देश दिया है कि घटना में मृतका के परिजनों के बयान के आधार पर तथा घटना के सभी साक्ष्यों की गहनता से जांच पड़ताल कर निष्पक्ष जांच की जाए और मामले में दोषी पाए जाने वाले आरोपियों के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here