द्वारीखाल में प्रमुख राणा के नेतृत्व में वृहद स्तर पर मनाया जा रहा है हरेला पर्व..

0
130

द्वारीखाल में प्रमुख राणा के नेतृत्व में वृहद स्तर पर मनाया जा रहा है हरेला पर्व..

भगवान सिंह,जागो ब्यूरो रिपोर्ट:

प्रमुख द्वारीखाल महेन्द्र सिंह राणा ने विकास खण्ड द्वारीखाल के ग्राम पंचायत बिरमोली में स्थानीय ग्रामीणों के साथ हरेला मनाया, कार्यक्रम के अन्तर्गत श्रावण मास की संक्रान्ति को प्रमुख राणा द्वारा ग्राम पंचायत बिरमोली के प्राथमिक विद्यालय बिरमोली में आम एवं कटहल के पौधों का रोपण कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया। महिला मंगलदल एवं ग्रामवासियों ने 300 आम के पौधे एवं 300 अमरूद के पौधों का रोपण किया। इसके पश्चात प्रधान श्रीमती मानसी देवी की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। मुख्य अतिथि प्रमुख महेन्द्र सिंह राणा द्वारा हरेला कार्यक्रम के बारे में जानकारी दी गई। उन्होंने अपने सम्बोधन में सभी को पेड लगाने तथा पेडों को बचाने के लिए प्रोत्साहित किया,क्योंकि बिना पेडों के हम जीवित नहीं रह सकते हैं। पेड पौधे हैं तो मानव है, यदि पेड पौधे नहीं रहेंगे तो हम भी नहीं रह पायेंगे। पेड पौधों के बिना हमारा जीवन अधूरा है, हमारे पूर्वजों ने भी पेड पौधे लगाये हैं और आज हम उनका उपयोग कर रहे हैं। पेड पौधों से ही हमारा पर्यावरण शुद्ध होता है और समय पर वर्षा होती है। हमें अपने खेतों में घर के पास फलदार वृक्षों का रोपण करना चाहिये। इस बार भी उद्यान विभाग के सहयोग से 10000 पौधों का रोपण किया गया। विकास खण्ड से मनरेगा योजना में अलग से फलदार एवं वन प्रजाति के पौधों का रोपण किया जायेगा। हरेला वृक्षारोपण कार्यक्रम के पश्चात एक बैठक आयोजित की गई। बैठक में ज्येष्ठ उपप्रमुख नीलम नैथानी, रोशन सिंह तोमर प्रधान हथनुड,गणेश कण्डवाल,प्रधान बनाली,अर्जुन सिंह प्रधान संगठन अध्यक्ष, सामाजिक कार्यकर्ता राजेश बिष्ट, श्रीमती ऊषा देवी,महिला मंगलदल,संजीव जुयाल सामाजिक कार्यकर्ता,धर्मेन्द्र सिंह चैलूसैंण, नरेन्द्र रावत, एडीओ उद्यान, मुकेश पटवाल, प्रवक्ता जी.आइ.सी सतपुली, श्रीमती बरखा पटवाल, अध्यापिका श्रीमती मनीषा, अध्यक्ष म0 उत्थान संगठन सकुल काण्डाखाल, खण्ड विकास अधिकारी आतिया परवेज तथा प्रमुख महेन्द्र सिंह राणा द्वारा सभा को सम्बोधित किया गया। हरेला कार्यक्रम विकास खण्ड में बड़े धूमधाम से मनाया गया।सभा का संचालन सेवानिवृत्त स0वि0अ0 पंचायत मनमोहन बिष्ट जी द्वारा किया गया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY