मानसून में आफत न बन जाये अवैध र्निमाण, बरसाती गदेरों में बने हैं आवासीय भवन..

0
226
श्रीनगर में अलकनन्दा उफान पर घाट हुये जलमग्न

मानसून में आफत न बन जाये अवैध र्निमाण, बरसाती गदेरों में बने हैं आवासीय भवन..

कमल पिमोली,जागो ब्यूरो, श्रीनगर: नगर क्षेत्र में बरसाती गदेरों मे बन रहे अवैध निर्माण खतरे के सबब बने हुए है,ये अवैध निर्माण मानसून में बरसात के चलते कभी भी श्रीनगर शहर पर कहर बनकर टूट सकते है। नगर क्षेत्र की यह दशा है कि पौड़ी रोड़, बुगााणी-खिर्सू रोड़ से लेकर श्रीकोट तक एक दर्जन बरसाती गधेरे बहते हैं,जिनके मुहानों पर कई भवन स्कूल और दुकानें बन चुकी है,भवन निर्माण होने के चलते ये बरसाती गदेरे नालियों में तब्दील हो गये हैं,लेकिन बरसात के दौरान ये गदेरे उफान पर रहते हैं,आपको बता दें कि इस तरह के गधेरों मे अवैध निर्माण का ही खामियाजा वर्ष 2013 में हुयी भारी बारिश से उठाना पड़ा था, जब कई गधेरों ने नगर की सूरत ही बदल दी थी,घसियामहादेव, बाँसबाड़ा,भक्तियाना के कई घरों में पानी व मलवा घुस गया था, फिर भी किसी ने इन गधेरों की सुध नहीं ली और इनमें लगातार निर्माण कार्य होता गया, इन्ही बरसाती गधेरों के मुहाने पर अब मोहल्ले बस गये हैं

बरसाती गधेरों में बने भवन दे रहे आपदा को दावत

विशेषज्ञोंने इसे गंभीर समस्या बताते हुए ऐतिहात बरतने की बात कही है, लेकिन प्रशासन इस खतरे से अनजान बना हुआ है। जिलाधिकारी पौड़ी धीरज गर्ब्याल का कहना है कि इस तरह के अवैध निर्माण करने वालों पर उपयुक्त कार्यवाही की जायेगी, साथ ही बरसाती गधेरों पर अवैध निर्माण पाये जाने पर उसे हटाया भी जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here