देवप्रयाग विधानसभा के हिंडोलाखाल क्षेत्र में गुलदार का आतंक,अब तक दो महिलाओं को बना चुका है निवाला!

0
332

देवप्रयाग विधानसभा के हिंडोलाखाल क्षेत्र में गुलदार का आतंक,अब तक दो महिलाओं को बना चुका है निवाला !

भगवान सिंह,जागो ब्यूरो रिपोर्ट:

प्रदेश के ग्रामीण अंचलों में गुलदार के हमले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं,ताजा मामला जनपद टिहरी गढ़वाल के देवप्रयाग विधानसभा के हिंडोला खाल ब्लॉक के दुरोगी गाँव का है, जहां गुलदार ने एक महिला को निवाला बनाया है!हालांकि,वन विभाग की टीम इलाक़े में इस तरह की लगातार दूसरी घटना के बाद से अपने दल बल के साथ क्षेत्र में तैनात है,लेकिन विभाग की सारी कोशिशें धराशायी होती नज़र आ रही है,जिससे ग्रामीणों में वन महकमे खिलाफ रोष व्याप्त है,साथ ही लोग खौफ के साये में जीने को मजबूर हैं,
इससे पूर्व भी गुलदार क्षेत्र में एक महिला को अपना निवाला बना चुका है,जबकि एक महिला को घायल कर चुका है,वहीं,आज गुलदार ने गाँव की गुन्द्री देवी (50) को अपना शिकार बनाया है! इस घटना के बाद से लोग खौफजदा हैं,ऐसे में वन विभाग के अधिकारी भी जल्द गुलदार को पकड़ने की बात कह रहे हैं, लेकिन गुलदार क्षेत्र में आतंक का पर्याय बना हुआ है।वहीं, देवप्रयाग क्षेत्र के वन अधिकारी डीएस पुंडीर ने बताया कि क्षेत्र में गश्त बढ़ा दी गई है और जल्द गुलदार को पकड़ लिया जायेगा। नरभक्षी बाघ कई दिनों से छाम, दुरोगी गांव में सक्रिय है,पहले गुलदार ग्रामीणों के मवेशियों को अपना निवाला बनाना शुरू किया,उसके बाद सबसे पहले दुरोगी की एक महिला पर हमला बोल दिया,जिसका उपचार चल रहा है,इसके बाद गुलदार छाम गाँव के भगवती दास की पत्नी को आँगन से उठा ले गया और जिसका शव खेत में पड़ा मिला!
वहीं, मंगलवार को दुरोगी गाँव की गुन्द्री देवी पत्नी मदन लाल जो खेतों में काम कर रही थी,को गुलदार ने खाई में गिरा दिया, सूचना के बाद वन विभाग की टीम और ग्रामीणों ने महिला की खोजबीन शुरू की,जिसके बाद महिला का शव जंगल के पास खाई में पड़ा मिला,ग्रामीणों ने प्रशासन को चेतावनी दी है कि अगर गुलदार नहीं मारा गया तो वे आंदोलन को मज़बूर होंगे!वंही ग्रामीणों घायल महिला सहित मृतकों को उचित मुआवज़े देने की भी माँग की है।इस.मौके पर आशीष पंवार,राजेंद्र भण्डारी
पूर्व प्रमुख मगन सिंह बिष्ट जयपाल पंवार,सूरज पाठक,दिनेश पंवार,सोबन सिंह चौहान,धूम सिंह लिगंवाल,विजय पंवार,सुनील चौहान,मान सिंह सौरभ रतूडी,पवन पंवार,आदि मौजूद थे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY