उत्तराखंड में अब सफर करना होने वाला महंगा, वसूला जाएगा ग्रीन सेस…

0
24

उत्तराखंड में अब सफर करना मंहगा होने वाला है। धामी सरकार अब प्रदेश में ग्रीन सेस लगाने वाली है।  बताया जा रहा है कि इसके तहत बाहरी राज्यों से आने वालों से पैसा वसूला जाएगा। जिससे उनका सफर मंहगा हो जाएगा। आइए जानते है सरकार ये पैसा क्यों वसूलेगी, और इसके लिए क्या कवायद की जा रही है। ये ग्रीन सेस कबसे लागू होगा।

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार उत्तराखंड सरकार की ओर से बाहरी राज्यों से आने वाले वाहनों से प्रवेश शुल्क के रूप में ग्रीन सेस वसूलने की नई व्यवस्था की जा रही है। जिसके बाद यूपी, दिल्ली- एनसीआर, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा आदि राज्यों से उत्तराखंड में घुमने अपने वाहनों से आने वाले लोगों का अब खर्च बढ़ जाएगा। बताय जा रहा है कि ग्रीन सेस व्यवस्था को फास्टैग से जोड़ा जा रहा है। इसके लिए केंद्र सरकार से बातचीत चल रही है। फास्टैग से जुड़ने पर टोल प्लाजा पर वाहनों से टोल के साथ ग्रीन सेस भी कट जाएगा।

बताया जा रहा है कि धामी सरकार की ओर से इस संबंध में एक अधिसूचना जारी की गई है। इसमें ग्रीन सेस लागू किए जाने के प्रावधान का जिक्र किया गया है। अब शासन द्वारा इस अधिसूचना के जारी होने के बाद जल्द से जल्द इस व्यवस्था को लागू करने की कोशिश की जा रही है। परिवहन विभाग बाहर से आने वाले वाणिज्यिक वाहनों से अभी तक एंट्री टैक्स वसूलता रहा है। अब वाणिज्यिक और निजी दोनों वाहनों से ग्रीन सेस लिया जाएगा। इससे परिवहन विभाग का टैक्स कलेक्शन बढ़ने की संभावना है।

जाने कितना वसूला जाएगा ग्रीन सेस

बताया जा रहा है कि दूसरे राज्यों से आने वाले वाहनों से कटने वाला ग्रीन सेस पूरे दिन के लिए मान्य होगा। एक स्थान पर सेस कटने के बाद दोबारा नहीं कटेगा। सरकार की ओर से सेस के एकमुस्त भुगतान की भी व्यवस्था उपलब्ध कराई जाएगी। यह व्यवस्था तिमाही और सालाना है। हर रोज लगने वाले ग्रीन सेस का 20 गुना भुगतान करने पर तीन महीने तक ग्रीन सेस नहीं लिया जाएगा। व्यवसायिक वाहन इस योजना का लाभ उठा सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here