ओलंपस हाईस्कूल ने मनाया वर्चुअल स्पोर्ट्स एक्टिविटी डे

0
12

देहरादून । ओलंपस हाईस्कूल ने आज स्कूल परिसर के भीतर पहला वर्चुअल स्पोर्ट्स एक्टिविटी डे मनाया। कोविड-19 महामारी के कारण छात्रों ने ऑनलाइन माध्यम से कार्यक्रम में बड़े उत्साह से भाग लिया। वर्चुअल स्पोर्ट्स एक्टिविटी डेश् के परिणामों की घोषणा की गई जिसमे बैलून बैलेंसिंग रेस’ में मुदिता वार्ष्णेय और आरव ध्यानी ने पहला स्थान हासिल किया, अनन्या सिंह ने श्एक्सप्लोर द ट्रैक’ में पहला पुरस्कार जीता, कानन ने श्ड्रेस अप रेस’ में पहला स्थान हासिल किया, रणवीर को श्बिग फुट रेस’ में प्रथम पुरस्कार से सम्मानित किया गया, हर्षित यादव ने श्वाटर बॉटल रेसश् में पहला स्थान हासिल किया, सुहानी थापा ने श्कलेक्टिंग द बॉल्सश् में प्रथम पुरस्कार प्राप्त किया, इशिता जम्वाल को श्टाईइंग शू लेसश् में प्रथम पुरस्कार के साथ प्रस्तुत किया गया, गर्विता सेठी ने गारलैंड मेकिंगश् में पहला स्थान हासिल किया, अविशी शाही को श्ब्लो द बैलून’ में प्रथम पुरस्कार प्रदान किया गया जबकि आद्य शर्मा को श्ड्रेस अप टू स्कूल’ के लिए प्रथम पुरस्कार से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत हेड बॉय राज्यवर्धन सिंह भंडारी और हेड गर्ल मानवी  शर्मा के स्वागत भाषण के साथ हुई।
बाद में प्रधानाचार्या डॉ अनुराधा पुंडीर मल्ला ने अपने भाषण में छात्रों के जीवन में खेल के महत्व पर जोर दिया। इस अवसर के दौरान उन्होंने कहा, ष्हम सभी ओलिंपस हाई का हिस्सा होते हुए ये मानते हैं कि भले ही यह महामारी ने हमें अपने घरों के अंदर रहने में मजबूर कर दिया है, मगर इस से हमारे उत्साह और जोश में कोई कमी नहीं आयी है। ऑनलाइन स्पोर्ट्स इवेंट के दौरान योगा और जुम्बा नृत्य प्रदर्शन के साथ साथ कई विभिन्न मंत्रमुग्ध करने वाली गतिविधियों का प्रदर्शन स्कूल के सीनियर सेक्शन की फैकल्टी द्वारा किया गया। इसके बाद क्रमशः प्राइमरी और प्री-प्राइमरी कक्षाओं के छात्रों द्वारा उत्साह भरा जुम्बा और नृत्य प्रदर्शन किया गया। सभी छात्रों ने कार्यक्रम में अपने अपने घरों से भाग लिया और प्रस्तुतियों का भरपूर आनंद उठाया। कार्यक्रम में प्राइमरी और प्री-प्राइमरी कक्षाओं के छात्रों के लिए ऑनलाइन प्रतियोगिताएं भी आयोजित करी गयीं। कार्यक्रम का समापन प्रबंधन निदेशक कुनाल शमशेर मल्ला के भाषण के साथ हुआ, जिसके माध्यम से उन्होंने ओलम्पियन्स की आपस में जुड़े रहने की उत्साह भावना की प्रशंसा करी। उन्होंने सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना करी और छात्रों को सदैव कड़ी मेहनत करते रहने के लिए प्रोत्साहित करा।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY