टिहरीः ग्रामीण महिलाओं ने लगाएं इस विभाग पर गंभीर आरोप, डीएम ने दिए अधिकारियों को ये आदेश…

0
32

टिहरीः जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव बूढ़ाकेदार के राप्रावि थाती में आयोजित शिविर में शामिल हुई। इस दौरान घनसाली से बूढ़ाकेदार जाते समय  ग्रामीण महिलाओं ने रास्ते में उनका काफिला रोक अपनी समस्याएं रखी। जिसपर डीएम ने त्वरित एक्शन लेते हुए अधिकारियों को प्राथमिकता से समस्याओं के निस्तारण के निर्देश दिये।

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार ग्राम पंचायत कोठियाड़ा, श्रीकोट, चमियाला गांव, केमरा, चमोल गांव की महिलाओं ने बूढ़ाकेदार जा रही डीएम को रास्ते में रोक लिया। इस दौरान उन्होंने सिंचाई विभाग पर अनदेखी का आरोप लगाया। महिलाओं का कहना है कि सिंचाई विभाग के अधिकारियों को ग्रामीण पिछले छह माह से नहरों की मरम्मत करने की मांग करते आ रहे हैं, लेकिन विभाग पैसा का रोना रोकर अपना पल्ला झाड़ रहा है।

महिलाओं ने डीएम ने कहा कि वर्षों पुरानी नहरों के क्षतिग्रस्त होने के कारण उन पर पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं चल पा रहा हैं और अब धान की रोपाई के लिए भी पानी नहीं मिल पा रहा है। ऐसे में उनके सामने धान की रोपाई के लिए संकट खड़ा हो गया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए डीएम ने सिचाई विभाग को तत्काल प्रभाव से ग्रामीणों की समस्या का समाधान करने के आदेश दिए है।

वहीं दूसरी ओर आयोजित शिविर में ग्रामीणों ने बूढ़ाकेदार मार्ग को पक्का करने, ग्राम पंचायत रगस्या थाती में नदी के किनारे क्षतिग्रस्त सिंचाई नहर की मरम्मत करने, बूढाकेदार में क्षतिग्रस्त पैदल पुलिया की मरम्मत, राप्रावि जाखाणा कोट में चार दिवारी निर्माण तथा शौचालय एवं किचन का निर्माण करने की मांग की। ग्रामीणों ने अटल आवास योजना, वृद्धावस्था पेंशन, निराश्रित, विधवा पेंशन, खाद्य योजनान्तर्गत अन्त्योदय राशन कार्ड जारी करने, जंगली जानवरों से फसल सुरक्षा सहित कई अन्य शिकायतें भी डीएम से की है।

टिहरीः ग्रामीण महिलाओं ने लगाएं इस विभाग पर गंभीर आरोप, डीएम ने दिए अधिकारियों को ये आदेश…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here