मुख्यमन्त्री स्वरोजगार योजना से निराशा हाथ लगने पर अपने संसाधनों से स्वरोजगार शुरू कर बेरोजगार ने सिस्टम को दिखाया आईना…

0
568

मुख्यमन्त्री स्वरोजगार योजना से निराशा हाथ लगने पर अपने संसाधनों से स्वरोजगार शुरू कर बेरोजगार ने सिस्टम को दिखाया आईना…
भास्कर द्विवेदी,जागो ब्यूरो चौबट्टाखाल:

पौड़ी जनपद की चौबट्टाखाल विधानसभा के विकासखंड एकेश्वर के अंतर्गत संगलाकोटी गाँव के प्रवासी युवा साबर सिंह रावत ने मुख्यमंत्री स्व- रोजगार योजना में आवेदन किया और कोटद्वार उद्योग विभाग में उनका साक्षात्कार भी हुआ,उसमें सफल होकर उनकी फाइल उनके चयनित बैंक में आयी,जिसके बाद उन्होंने बैंक में संपर्क किया तो उन्हें बताया गया कि आपका आवेदन पत्र निरस्त कर दिया गया, जिसका कारण उन्हें बताया गया कि आप प्रवासी हैं! आपका आधार कार्ड और व्यवसाय दूसरे प्रदेश में है और ही ये कहा गया कि गृह जनपद में व्यवसाय की संभावनाएं कम हैं

जबकि कोरोना वायरस संकटकाल के दौरान बाहरी प्रदेश में अपने होटल व्यवसाय के बंद होने के उपरांत साबर सिंह रावत अपने गृह जनपद सपरिवार इसी उम्मीद से आया था, कि अब मुख्यमंत्री ग्रामीण स्वरोजगार योजना के तहत गाँव में ही सपरिवार रहकर अपना जीवन यापन करेगा और अपने साथ अन्य युवकों को भी स्वरोजगार से जोड़ेगा,लेकिन सिस्टम की उदासीनता ने ऐसे कितने ही युवाओं को मजबूरी में वापस जाने पर विवश कर दिया है, लेकिन साबर सिंह रावत ने सिस्टम को आईना दिखाते हुए अपने संसाधनों से रावत रेस्टोरेंट एंड होटल के नाम से केवल अपना रोजगार शुरू किया

वरन अपने साथ गांवों के अन्य लोगों को भी रोजगार से जोड़कर सरकारी सिस्टम के गाल पर झन्नाटेदार तमाचा तो जड़ ही दिया है!

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY