रोज़गार को लेकर युवाओं का भविष्य चौपट करने पर उतारू त्रिवेंद्र सरकार : दिगमोहन नेगी,आप युवा मोर्चा अध्यक्ष

0
265

रोज़गार को लेकर युवाओं का भविष्य चौपट करने पर उतारू त्रिवेंद्र सरकार : दिगमोहन नेगी,आप युवा मोर्चा अध्यक्ष
स्वप्निल धस्माना, जागो ब्यूरो, पौड़ी:

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत रोजगार और स्वरोजगार को लेकर बड़े बड़े और झूठे आंकड़े पेश करके, युवाओं को गुमराह करने का काम करती आई है । प्रदेश में युवा रोजगार के लिए कई मर्तबा सड़कों पर उतर आया लेकिन ये बहरी सरकार रोजगार के मामले में पिछले चार सालों में फिसड्डी साबित हुई। यही वजह है सूबे में बेरोजगारी दर सबसे ज्यादा 23 फीसदी पहुंच गई। ताज़ा मामला उत्तराखंड के एक जिले रुद्रप्रयाग का ले लो जहां बेरोजगारों की संख्या 23000 पार कर गई और इस साल अब तक सरकार ने रोजगार के मामले में महज एक युवा ही रोजगार पा पाया है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत, झूठे आंकडों से हमेशा ही जनता को भम्रित करने का काम करते रहे हैं । पूरे प्रदेश के युवाओं को रोजगार देने का झूठा सपना दिखाने वाली सरकार का सच रुद्रप्रयाग जिले से आई इस रिपोर्ट को देख कर स्पष्ट हो जाता है कि सरकार की कार्यशैली और मंशा में ज़मीन आसमान का अंतर है । जुमलों और बयानबाजी करने वाली बीजेपी पर आप के युवा मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष दिग्मोहन नेगी ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि ये सरकार युवाओं को रोजगार मुहैया कराने के मामले में पूरी तरह से फेल हो चुकी है। जनता का इस सरकार से भरोसा उठ चुका है। मुख्यमंत्री पूरे प्रदेश में जाकर ये कह रहे हैं कि सरकार युवाओं के प्रति बहुत गंभीर है और कोरोना काल में सैकडों युवाओं को सरकार ने ना रोजगार उपलब्ध कराया, और ना ही स्वरोजगार दे पाए । मजबूरीवश कई युवाओं को काम की तलाश में फिर उत्तराखंड से बाहर निकलना पड़ा जहां वो करोना के चलते वापस लौट आए थे ।आप युवा अध्यक्ष ने कहा, रुद्रप्रयाग में बेरोजगारों का आंकडा 23 हजार के पार पहुंच गया और विभागों में आज भी तमाम रिक्तियों के बावजूद, इस साल अब तक सिर्फ एक ही अभ्यर्थी को सरकारी नौकरी मिली । दिगमोहन नेगी ने कहा, युवाओं के साथ अब खिलवाड़ नहीं होने देंगे,अगर सरकार ने रोजगार को लेकर फिर बेरोजगार युवाओं को गुमराह करने की कोशिश की तो युवा सड़कों पर उतर कर इस सरकार को एहसास दिला देगी कि युवाओं के साथ छल ,कपट और उनके भविष्य से खेलना इनको कितना भारी पड़ सकता है।आप युवा अध्यक्ष दिगमोहन नेगी जल्द ही सभी जिलों में जाकर बेरोजगार युवाओं से मुलाकात कर सरकार के झूठे आंकड़ों और गुमराह होने से युवाओं को सचेत करेंगे।दिगमोहन नेगी ने कहा, रुद्रप्रयाग जिले में कोरोना काल में घर लौटे कुल 3347 युवाओं ने रोजगार कार्यालय में पंजीकरण करवाया।जिसके बाद जिले में कुल बेरोजगारों की संख्या 23 हजार 828 पार कर गई। जबकि अब तक महज युवा को रोजगार मिला है । ये हालात तब है जब प्रदेश में कई सरकारी विभागों में रिक्त पद चल रहे हैं। समय निकलता जा रहा और सरकार चुनावी वर्ष में अपने हितों को देखते हुए विज्ञप्तियां निकालने में देरी कर रही जिससे युवाओं का समय के साथ उम्र भी निकलती जा रही। आप युवा अध्यक्ष ने कहा,चुनावी फायदा देखते हुए सरकार पिछले चार सालों से रोजगार को लेकर युवाओं के साथ छलावा कर रही जिसे युवा बेरोजगार समझ चुका है और अब युवा इस सरकार के झांसे में आने वाला नहीं है।प युवा मोर्चा अध्यक्ष नेगी ने कहा,रोजगार में फेल होने के बाद स्वरोजगार को लेकर बड़ी-बड़ी बात करने वाली सरकार स्वरोजगार को लेकर भी बुरी तरह फेल हो चुकी है । कोरोना काल के दौरान राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री स्वरोजगार का खूब डंका बजाया लेकिन कितने लोगों को इसका लाभ पूरे प्रदेश में युवाओं को मिला ये आंकड़े देखकर आप अंदाजा लगा सकते हैं। अकेले रुद्रप्रयाग में 1500 से अधिक युवाओं ने स्वरोजगार के अंतर्गत अनेकों योजनाओं के लिए आवोदन तो किया लेकिन महज 305 आवेदन स्वीकार किए गए जिनकी छंटनी के बाद 114 आवेदन को शॉर्टलिस्ट कर सिर्फ 83 अभ्यर्थियों को ऋण देकर युवाओं से फिर मज़ाक किया गया।नेगी ने कहा,ये हाल सिर्फ रुद्रप्रयाग का नहीं अमूमन हर जिले के हालात ऐसे ही हैं लेकिन जनता को बरगलाने के अलावा सरकार और कोई दूसरा काम नहीं कर रही है। यही वजह रही कि कोरोना काल में लौटे लाखों लोग वापस महानगरों की ओर वापस चले गए है।आप युवा मोर्चा,अध्यक्ष ने कहा,जल्द ही आप युवा मोर्चा के कार्यकर्ता पूरे प्रदेश के भ्रमण पर जाकर युवाओं को सरकार के दोहरे चरित्र से अवगत कराएंगे और उनकी समस्याओं से रूबरू होकर रोजगार का ऐसा मॉडल पेश करेंगे जिससे युवाओं को अपनी मातृ भूमि छोड़ कर महानगरों की और ना लौटना पड़े।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY