जगन्नाथ धाम में 108 दिन के लोककल्याण अनुष्ठान का शुभारंभ

0
16

हरिद्वार । श्रीमद जगद्गुरु रामानंदाचार्य साकेत वासी स्वामी हंसदेवाचार्यजी महाराज की परंपरा को आगे बढ़ाते हुए श्री जगन्नाथ धाम के परम अध्यक्ष महंत अरुण दास महाराज ने कोरोना महामारी एवं अन्य संक्रामक रोगों से मुक्ति हेतु आज भीमगोडा स्थित श्री जगन्नाथ धाम में 108 दिन के लोक कल्याण अनुष्ठान का शुभारंभ किया जो दशहरे तक अनवरत जारी रहेगा ।
अनुष्ठान का शुभारंभ करते हुए महंत अरुणदास महाराज ने कहा कि भगवान हनुमान रोग ,दोष, दुख तथा संकटों का नाश करते हैं और बल एवं बुद्धि के प्रदाता का जब भक्त विधान पूर्वक आवाहन करता है तो संपूर्ण दैवीय शक्तियां समाज के अनुकूल हो जाती है।  राम भक्त हनुमान को परोपकार के प्रणेता बताते हुए उन्होंने कहा कि किसी के संकट काल में साथ देने वाला ही महान होता है और हनुमान जी ने भगवान राम तथा सुग्रीव को संकटों से उबार कर सनातन धर्म एवं संस्कृति का आदर्श प्रस्तुत किया । श्री हनुमानजी को भगवान शिव का अवतार बताते हुए उन्होंने कहा श्रावण मास भगवान शिव को प्रिय है और वे स्वयं भगवान श्रीहरि के चातुर्मास में शयन में जाने के बाद एक माह तक हरिद्वार में रहकर ही सृष्टि का संचालन करते हैं। रुद्रावतार के अनुष्ठान को लोक कल्याण के लिए महान उपयोगी बताते हुए महंत अरूण दास महाराज ने कहा कि पूज्य गुरुदेव के सानिध्य में उन्होंने 21 दिन तथा 40 दिन के श्रावण अनुष्ठान लिए थे और 108 दिवसीय उनका यह पहला अनुष्ठान है जो दशहरा पर्व तक चलेगा। भगवान शिव को शीघ्र प्रशन्न होने वाला देव बताते हुए उन्होंने बताया कि भगवान महादेव ही एकमात्र ऐसे देव हैं जिनकी उपासना देवता और दैत्य सभी करते हैं इसी कारण वे महादेव कहलाते हैं इसीलिए यह अनुष्ठान विश्व के कल्याण के लिए आयोजित किया जा रहा है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY