पौड़ी जनपद की जनता की समस्याओं की अनसुनी करने पर भाजपा पर बरसे मनीष खण्डूरी..

0
162

पौड़ी जनपद की जनता की समस्याओं की अनसुनी करने पर भाजपा पर बरसे मनीष खण्डूरी..

जागो ब्यूरो रिपोर्ट:

पूर्व गढ़वाल लोकसभा प्रत्याशी एंव राष्ट्रीय मीडिया‌ प्रभारी- अखिल भारतीय काँग्रेस कमेटी मनीष खण्डूरी द्वारा पौड़ी में प्रेस से मुख़ातिब होते हुये डबल इंजन सरकार के जनविरोधी नीतियों को प्रमुखता से उठाया, विशेषकर पौड़ी गढ़वाल में विकास कार्यों की अनदेखी पर डबल इंजन सरकार पर मनीष खंडूरी जमकर बरसे ! मनीष खंडूरी एवं केशर सिंह नेगी द्वारा लैंसडाउन एवं चौबट्टाखाल विधानसभा का भ्रमण कार्यक्रम पूर्ण होने पर आम जनता से मुलाक़ात करने पर प्राप्त अनुभवों को मीडिया से बाँटने को प्रेस से मुख़ातिब थे,मनीष खंडूरी एवं केशर सिंह नेगी द्वारा इस भ्रमण कार्यक्रम में रात्रि विश्राम कार्यकर्ताओं के गाँवों में किया,जिससे गाँव एवं ग्रामीणों की समस्यायों को जानने का प्रयास किया गया,मनीष खंडूरी के द्वारा जन विकास के निम्नलिखित मुद्दों पर डबल इंजन सरकार को तुरंत कार्यवाही करने के लिए कहा गया..

1- चौबट्टाखाल और लैंसडाउन विधानसभा के भ्रमण के दौरान पाया गया कि चौबट्टाखाल एंव लैंसडाउन विधानसभा के अंतर्गत सड़कों एंव दूरसंचार की स्थिति बहुत ही खराब है,कोरोना काल में आनलाईन क्लासेस होने के फलस्वरूप दूरसंचार स्थिति के दयनीय होने के कारण छात्र-छात्राओं को अत्यंत कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है एवं उनके भविष्य के साथ सरकार खिलवाड़ कर रही है!

2- जिला पंचायत पौड़ी में हुए घोटाले,जिला पंचायतो के इतिहास का सबसे बड़ा भ्रष्टाचार है और सरकार कहीं न‌ कहीं भ्रष्टाचारियों को बचा रही है, इसलिए इस प्रकरण की अविलम्ब जाँच करके भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाए!

3- पौड़ी बस अड्डे का निर्माण शीघ्रातिशीघ्र पूर्ण किया जाए!

4- पलायन आयोग का बनना केवल एक घोषणा सिद्ध हुई है, हाल ये है कि पलायन आयोग खुद पौड़ी से पलायन कर गया है!

5 -नर्सिंग कालेज की स्थापना भी बस एक घोषणा ही रही,इससे ज्यादा कोई प्रयास सरकार के द्वारा नहीं किया गया!

6-घुड़दौड़ी इंजीनियरिंग कालेज पौड़ी के लिए गर्व की बात है,मगर कालेज में छात्रों के अराजक माहौल से क्षेत्रवासियों के मन में भय उत्पन्न हो गया है!

7- कोरोना काल में प्रवासी लोगों के लिए सरकार के द्वारा कोई भी सकारात्मक कदम नहीं उठाए गए और ना ही उनके रोजगार के लिए सरकार की कोई नीति है !

8- पौड़ी जिला अस्पताल को पी.पी.पी.मोड में देने का उन्होंने पुरजोर विरोध किया और सरकार के द्वारा निजी हाथों में देने से इसे एक रेफर सेंटर के रूप में कार्य करने का अंदेशा जताया!

9- ल्वाली झील निर्माण भी सुस्त रफ़्तार से चलने पर भी रोष प्रकट किया!

10-अशासकीय कालेजों में होने वाली नियुक्तियां केवल पैसे कमाने का जरिया बना हुआ है!

11-राज्य आंदोलनकारियों का जो हक है,सरकार उसको देने में असफल रही है और राज्य निर्माण करने वाले आंदोलनकारी आज आदोलन‌ की राह पर है,लेकिन सरकार के पास उनकी सुध लेने का समय तक नहीं है!

केशर सिंह नेगी द्वारा पत्रकार बंधुओं को बताया कि,प्रेस के माध्यम से उपरोक्त माँगे सरकार के कानों तक पहुंचे और मांगों का सरकार तत्काल संज्ञान लेकर कार्यवाही करें,अन्यथा काँग्रेस संगठन से लेकर कार्यकर्ताओं को सड़क पर उतरकर विरोध प्रदर्शन करने पर विवश होना पड़ेगा! प्रेस वार्ता में काँग्रेस जिलाध्यक्ष कामेश्वर राणा,पीसीसी सचिव सरिता नेगी,नवल किशोर,काँग्रेस ब्लाक अध्यक्ष गांधी सिंह नेगी, महिला जिलाध्यक्ष काँग्रेस कमला रावत,नगर अध्यक्ष विनोद बिष्ट, विनोद धनौशी,तामेश्वर आर्य,युवा तुर्क एनएसयूआई जिलाध्यक्ष गौरव सागर,जगमोहन रावत आदि शामिल थे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY