पहाड़ी बोली-भाषा की गायकी को नये आयाम देती निधि राणा..

0
460
पहाड़ी बोली-भाषा की गायकी को नये आयाम देती निधि राणा..
जागो ब्यूरो रिपोर्ट:
मूलतः जौनसार क्षेत्र से ताल्लुख़ रखने वाली गायिका निधि राणा पहाड़ी बोली-भाषा के उत्थान के लिये अपनी गायकी के माध्यम से सतत रूप से प्रयासरत हैं, देहरादून के साज स्टूडियो में आजकल वे अपने गुरु संजय राणा जी के साथ एक नये गीत को तैयार करने में जुटी हैं, साज स्टूडियो कई उदीयमान गायकों को संगीत की बारीकियाँ सिखा कर तराश चुका है,ये कोई नहीं जानता कि कब और कौन सा गाना श्रोताओं को भा कर सुपर-डुपर हिट हो जाये! लेकिन एक बात तय है कि निधि राणा की आवाज़ बेहद सुरीली होने के साथ,उनकी जौनसारी और हर इलाके में बोली जाने वाली गढ़वाली व कुमाऊँनी बोली में गाने की महारथ उन्हें अन्य उदीयमान गायकों से अलग खड़ा करती है,पेश है “जागो उत्तराखण्ड” से उनकी ख़ास बातचीत…
https://youtu.be/CYmijHN1RsU

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here