पौड़ी में वेस्ट रीसाइक्लिंग सेड बनाने का विरोध,आरोप “बेनाम” कर रहे हैं पौड़ी से पलायन को मजबूर!

0
563

पौड़ी में वेस्ट रीसाइक्लिंग सेड बनाने का विरोध,आरोप “बेनाम” कर रहे हैं पौड़ी से पलायन को मजबूर!

भगवान सिंह ,जागो ब्यूरो रिपोर्ट:

पौड़ी शहर में गल्ला गोदाम के नजदीक कोटद्वार रोड के आसपास निवास करने वाले लोगों ने नगरपालिका पौड़ी द्वारा यंहा पर घनी आबादी के बीच वेस्ट रीसाइक्लिंग सेड बनाने के ख़िलाफ़ आक्रोश जाहिर किया है,लोगों का कहना है कि नगरपालिका अध्यक्ष यशपाल “बेनाम”जबरन यंहा पर वेस्ट रिसाइक्लिंग शेड बनाना चाहते हैं

जबकि पूरे शहर ने उनकी इस योजना को यह समझते हुये नकार दिया है,कि पालिका कूड़े का निस्तारण करने में पूरी तरह फेल रही है,क्योंकि पालिका आज तक शहर के लिये ट्रेन्चिंग ग्राउण्ड तक नहीं बनवा पायी है, जिससे कूड़ादान में कई-कई दिन तक मरे हुए जानवर और गन्दगी सड़ांध मारती रहती है,लोगों द्वारा इसका विरोध करने पर पालिका ने पूरे शहर से कूड़ेदान ही गायब कर दिये! पालिका मौजूदा समय में मेसमोर गधेरे में कूड़ा डंप कर वार्ड नम्बर 10 और 11 के लोगों की जान आफ़त में डाले हुये है,लोगों को डर है कि यंहा पर वेस्ट रीसाइक्लिंग शेड बनने से उनका सांस लेना भी मुश्किल हो जायेगा

यहाँ पर आसपास सैकड़ों आवासीय भवन हैं,जिससे लोगों का विरोध जायज दिखायी देता है,स्थानीय लोगों का कहना है कि पालिका इस स्थान पर व्यू पॉइन्ट या योगा पॉइंट बनाये,जिससे पर्यटक भी पौड़ी में रुकने को लालायित हों,क्योंकि यंहा से हिमालय का विस्तृत विहंगम दृश्य तो दिखायी ही देता है,बाँज और बुराँश के घने जंगल के नीचे बसा ये इलाका पौड़ी के सबसे ख़ूबसूरत इलाकों में से एक हैं, लोगों का आरोप है एक तरफ़ शासन-प्रशासन पौड़ी से पलायन रोकने की बात करता है,वंही दूसरी ओर नगरपालिका अध्यक्ष “बेनाम”ऐसी हरकतें कर रहें है कि लोग मजबूर होकर पौड़ी से पूर्णतः पलायन कर जायें

क्योंकि अगर यंहा जबरन वेस्ट रीसाइक्लिंग शेड बनाया जायेगा तो लोगों को अपने घरों को बेचकर अन्यत्र चले जाने पर मजबूर होना पड़ेगा,विरोध करने वालों में ज्ञानदीप चौधरी, कमल, नन्दा देवी, कुलदीप,आदि लोग मौजूद थे।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY