मुख्य सचिव ने चारधाम यात्रा के लिए सभी विभागों को दी डेडलाइन, पूरे करने होंगे ये काम…

0
13

उत्तराखंड में मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने प्रदेश में आगामी चारधाम यात्रा को श्रद्धालुओं तथा पर्यटकों के लिए सहज, सुगम, सुखद तथा सुरक्षित बनाने के दृष्टिगत यात्रा मार्ग पर जरूरी Infrastructure पूरी तरह तैयार करने हेतु सभी विभागों को दो महीने की डेडलाइन दी है। मुख्य सचिव ने यात्रियों की सुविधाओं के लिए यात्रा Registration को अधिक से अधिक Online प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही सीएस ने VIP दर्शन के कारण जनसामान्य को किसी तरह की परेशानी न हो इसके लिए सुव्यवस्थित प्रबन्धन करने के निर्देश दिए हैं।

यात्रा मार्ग पर सड़क दुर्घटनाओं एवं RoadSafety के मामलों को गम्भीरता से लेते हुए मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने जिलाधिकारियों को इससे सम्बन्धित सभी पहलुओं, विशेषकर Crash Barrier लगवाने के प्रस्ताव शीघ्र शासन स्तर पर भेजने के निर्देश दिए हैं। मुख्य सचिव ने सचिवालय में चारधाम यात्रा की तैयारियों की समीक्षा करते हुए आगामी चारधाम यात्रा को casualty free यात्रा बनाने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही अधिकारियों को 15 अप्रैल तक सड़कों की मरम्मत आदि का कार्य पूर्ण करने की डेडलाइन दी है।

लोक निर्माण विभाग द्वारा जानकारी दी गई कि इस वर्ष Road Safety आदि कार्यों के लिए 600 करोड़ रूपये अनुमोदित हैं। मुख्य सचिव ने यात्रा मार्गों पर ड्राइवरों की सुविधा के लिए रेस्ट रूम एवं सस्ते भोजन की व्यवस्था करने तथा इन रूम्स का संचालन स्थानीय युवाओं को सौंपने के निर्देश दिए हैं। Heli Services के रजिस्ट्रेशन के Online फर्जीवाड़े को पूरी तरह से रोकने व साइबर क्रिमिनल्स पर कड़ी निगरानी सुनिश्चित करने के दृष्टिगत मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने “हेली सेवाओं की बुकिंग केवल IRCTC के माध्यम से ही” का विभिन्न माध्यमों से प्रचार-प्रसार के निर्देश दिए हैं।

मुख्य सचिव ने हेली सेवाओं के फर्जीवाड़े के मामलों की गम्भीरता से जांच के लिए एसटीएफ को पूर्णतः सक्रिय करने के निर्देश दिए हैं। मुख्य सचिव ने कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा यात्रा सीजन के दौरान ग्रीष्मकाल में गैरसैंण में होने वाले विधानसभा सत्र के साथ-साथ ही यात्रा व्यवस्थाओं के भी शांतिपूर्ण संचालन हेतु विशेष निर्देश दिए गए हैं।

चारधाम यात्रा के दौरान यात्रियों के लिए हर समय बेहतरीन स्वास्थ्य सुविधाओं की उपलब्धता को शीर्ष प्राथमिकता पर लेते हुए मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने निर्देश दिए हैं कि चारधाम यात्रा मार्गों पर ड्यूटी पर लगे डॉक्टर्स का रोस्टर बनाकर तैनाती की जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि पहले से ही उत्तरकाशी, चमोली एवं रूद्रप्रयाग जिलों के स्वास्थ्य केन्द्रों पर तैनात डॉक्टर्स की ड्यूटी चारधाम यात्रा में न लगाई जाए बल्कि यात्रा मार्ग पर बाहर से युवा डॉक्टर्स की तैनाती की जाए।

इसके साथ ही मुख्य सचिव ने यात्रा मार्ग पर घोड़े खच्चरों की हेल्थ स्क्रीनिंग हेतु चेक पोस्ट पर ही व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। यात्रा के दौरान Plastic की बोतलों के उपयोग को हतोत्साहित करने के उद्देश्य से मुख्य सचिव ने Buy Back Bottle पहल को पूरे यात्रा मार्ग पर लागू करने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही उन्होंने जगह-जगह पर्याप्त संख्या में वाटर एटीएम मशीन लगाने के भी निर्देश पेयजल विभाग को दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here