“जागो उत्तराखण्ड”की पहल पर आल वेदर रोड पर एलिवेटेड नालियों/फुटपाथ से हो रही मुश्किलों का निकलेगा समाधान..

0
221
all weather road,rampur,rudraprayag

“जागो उत्तराखण्ड”की पहल पर आल वेदर रोड पर एलिवेटेड नालियों/फुटपाथ से हो रही मुश्किलों का निकलेगा समाधान..

आल वेदर रोड पर करोड़ों रूपया खर्च कर सड़क को चौड़ा करने का काम किया जा रहा है,लेकिन हैरानी की बात है कि ऋषिकेश से ऊपर केदारनाथ/बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर सड़क के दोनों ओर दो फीट से भी ऊँची नालियां/फुटपाथ बनाकर सड़क को चौड़ा करने के बजाय और संकरा किया जा रहा है,जिससे आल वेदर रोड का मूल कॉन्सेप्ट ही फेल होता नजर आ रहा है,ऐसा वँहा पर किया जा रहा है जंहा पर बस्ती,शहर या बाजार है ,क्योंकि नेशनल हाईवे के नियमानुसार सड़क के किनारे पैदल चलने वालों के लिए लिये फुटपाथ और नाली का प्रावधान अनिवार्य है ,लेकिन ऐसा करने से सड़क के दोनों ओर दुकानों की एप्रोच और पार्किंग ब्लॉक हो गयी है,इससे यात्रा के दौरान संकरी सड़क पर एक्सीडेंट होने और जाम लगने की समस्या और बढ़ने की संभावना है,साथ ही सामरिक महत्व की इस सड़क पर युध्द के दौरान आवश्यकता पड़ने पर सेना के बड़े वाहन यँहा से कैसे गुजरेंगे,ये भी बड़ा सवाल है?साथ ही आल वेदर रोड पर रोजगार करने वाले स्थानीय लोगों के होटल,ढाबों और दुकानों के आगे पार्किंग न होने से कारोबार को नुकसान होना भी तय है,”जागो उत्तराखण्ड” द्वारा यह मामला प्रमुखता से उठाये जाने के बाद केदारनाथ विधायक मनोज रावत ने भी आल वेदर रोड के निर्माण में इस बड़ी खामी पर सवाल उठायें हैं,लोक निर्माण विभाग के प्रमुख अभियन्ता उत्तराखण्ड और राष्टीय राजमार्ग के मुख्य अभियन्ता का कार्यभार देख रहे हरि ओम शर्मा ने भी समस्या को स्वीकारते हुये, समस्या का समाधान निकाले जाने का आश्वासन दिया है,उम्मीद है इससे आल वेदर रोड पर स्थित होटल/रेस्टोरेंट समेत सभी कारोबारियों और आल वेदर रोड पर चलने वाले वाहनों को उचित पार्किंग और बाजार क्षेत्र में भी चौड़ी सड़क उपलब्ध करा कर संकरी सड़क की वजह से होने वाले हादसों का भी न्यूनीकरण हो जायेगा।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY