राम मंदिर बाबरी मस्जिद मामले की सुनवाई आज होगी पूरी ! अब फैसले का इंतजार..

0
701

राम मंदिर बाबरी मस्जिद मामले की सुनवाई आज होगी पूरी ! अब फैसले का इंतजार…

शंभू नाथ गौतम, वरिष्ठ पत्रकार:

सुप्रीम कोर्ट में पांच जजों की पीठ अयोध्या के राम मंदिर बाबरी मस्जिद केस की सुनवाई पिछले 40 दिनों से कर रही है | इन 40 दिनों में सर्वोच्च अदालत में सुनवाई के दौरान कई उतार-चढ़ाव देखे | सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई ने काफी आक्रमक तेवर अपनाते हुए कहा है कि अयोध्या केस की आज शाम तक हर हाल में सुनवाई पूरी कर लेंगे | 70 सालों से चले आ रहे विवाद पर सुनवाई के लिए आज 40वें दिन सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ जैसे ही बैठी, कई पक्षकारों ने अपनी बात कहने के लिए और अधिक समय की मांग की, जिस पर पीठ ने कहा कि आज हम सुनवाई पूरी कर के ही उठेंगे | चीफ जस्टिस ने कहा कि राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले में रोजाना सुनवाई का शाम पांच बजे समापन हो जाएगा | उन्होंने कहा कि अब बहुत हो गया, इस मामले में सुनवाई आज ही पूरी होगी |

एक माह के अंदर अयोध्या केस का आ सकता है फाइनल फैसला—-

आज शाम को कोई बड़ी अड़चन नहीं आती है और राम जन्मभूमि बाबरी मस्जिद की सुनवाई पूरी हो जाती है तो उम्मीद की जानी चाहिए कि इस मामले का फाइनल फैसला एक माह के अंदर आ सकता है, जिसका पूरे देश की जनता को बेसब्री से इंतजार है | मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुवाई वाली पांच सदस्यीय संवैधानिक पीठ कर रही है | गोगोई इसी साल 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं | साफ है कि उनके रिटायर होने से पहले फैसला आ जाएगा | संवैधानिक पीठ में सीजेआई के अलावा जस्टिस एसए बोबडे, जस्टिस अशोक भूषण, जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस एस अब्दुल नजीर हैं |

39 दिनों में सुनवाई के दौरान दोनों पक्षों ने दलीलें दी, कई बार तीखी बहस भी हुई—

सर्वोच्च अदालत में अयोध्या केस की सुनवाई के दौरान दोनों पक्षों ने अपनी-अपनी दलीलें दी | सुनवाई के दौरान कई बार शीर्ष अदालत में ऐसी स्थिति भी बन गई कि दोनों पक्ष एक दूसरे पर हमलावर भी हो गए थे | 39 दिनों में सभी पक्षों ने सुप्रीम कोर्ट में अपने-अपने पक्ष रखे हैं | सुनवाई अयोध्या की जमीन को लेकर हो रही है | वर्ष 2010 में इलाहाबाद हाई कोर्ट ने अपने फैसले में 2.77 एकड़ भूमि को तीन पक्षों (सुन्नी वक्फ बोर्ड, निर्मोही अखाड़ा और रामलला विराजमान) में बांटने का आदेश दिया था | इसी फैसले के खिलाफ सभी पक्ष सुप्रीम कोर्ट चले गए | आज सुनवाई पूरी हो जाती है तो अयोध्या केस के सभी पक्षों को सर्वोच्च न्यायालय के फैसले का इंतजार रहेगा |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here