एनसीसी अकादमी के लिये अनिश्चितकालीन आंदोलन कर रहे लोग क्यों भड़के सुबोध उनियाल पर?

0
290

एनसीसी अकादमी के लिये अनिश्चितकालीन आंदोलन कर रहे लोग क्यों भड़के सुबोध उनियाल पर?

गौरव तिवारी,जागो ब्यूरो,हिन्डोलाखाल,टिहरी गढ़वाल:

हिन्डोलाखाल में एनसीसी अकादमी बचाओ संघर्ष समिति क़ा अनिश्चितकालीन धरना आज अट्ठाइसवें दिन भी जारी रहा,धरने पर मातृशक्ति द्वारा भी अपना सहयोग दिया गया, धरने में श्रीमती कल्पना पंवार, नीमा देवी असवाल, सिद्धि देवी, मीरा देवी,सहित दर्जनों लोगों ने भूख हड़ताल की,लोगों ने मुख्यमन्त्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से मांग की है कि यदि पूर्व में एनसीसी अकादमी को हिन्डोलाखाल में बनाये जाने को लेकर निर्गत शासनादेश के विभिन्न पत्रों के पत्रांक गलत हैं,तो शासनादेश जारी करने वाले सम्बंधित अधिकारियों को जेल भेज दिया जाना चाहिये,आन्दोलनकारियों ने पौड़ी में मानसून मैराथन के अवसर पर पहुँचे, नरेन्द्रनगर विधायक और कृषि मंत्री सुबोध उनियाल के उस वक्तव्य पर कड़ी प्रतिक्रिया भी जाहिर की है,जिसमें उन्होंने एनसीसी अकादमी को हिन्डोलाखाल से पौड़ी शिफ्ट किये जाने को लेकर “जागो उत्तराखण्ड”के सवाल पर कहा था,कि “मुख्यमन्त्री की घोषणा का सम्मान होना चाहिए”

स्थानीय जनता ने सुबोध उनियाल को आड़े हाथ लेते हुये सवाल उठाया कि,क्या तत्कालीन मुख्यमन्त्री हरीश रावत के द्वारा एनसीसी अकादमी को हिन्डोलाखाल में बनाये जाने की गयी घोषणा क़ा कोई सम्मान नहीं होना चाहिये

साथ ही यह सवाल भी उठाया कि वर्तमान मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत बतायें कि उन्होंने कब एनसीसी अकादमी को पौड़ी स्थापित करने की स्वीकृति दिलायी है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY