चारधाम यात्रा के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू, पर्यटन विभाग ने दिए ये निर्देश…

0
13

Chardham Yatra 2024: चारधाम यात्रा को लेकर बड़ा अपडेट आ रहा है। देश-दुनिया के श्रद्धालुओं के लिए आज से यात्रा के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू हो गए हैं। 10 मई से चारधाम यात्रा शुरू हो रही है। यात्रा में आने वाले श्रद्धालुओं को पंजीकरण अनिवार्य रूप से करना है। पर्यटन विभाग ने श्रद्धालुओं के पंजीकरण के लिए सुबह सात बजे से वेबसाइट खोल दी है। इसके साथ ही श्रद्धालु मोबाइल ऐप, वॉट्सएप और टोल फ्री नंबर के जरिए भी यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं।

मिली जानकारी के अनुसार जो भी श्रद्धालु चारधाम की यात्रा के लिए आना चाहते हैं उनके लिए रजिस्ट्रेशन अनिवार्य है। तीर्थयात्री चार माध्यमों से देश के किसी कोने से  अपना पंजीकरण का सकते हैं। पंजीकरण के लिए नाम, मोबाइल नंबर के साथ यात्रा करने वाले सदस्यों का ब्योरा, निवास स्थान के पत्ते के लिए आईडी देनी होगी। बताया जा रहा है कि उत्तराखंड विकास पर्यटन विकास परिषद कार्यालय में कॉल सेंटर संचालित किया जाएगा। जहां से सुबह 7:00 से रात 10:00 बजे तक रजिस्ट्रेशन के संबंध में जानकारी ली जा सकती है। फिलहाल इस साल किसी भी धाम के लिए यात्रियों की संख्या सीमित करने की कोई व्यवस्था नहीं है।

पर्यटन विभाग की वेबसाइट registrationandtouristcare.uk.gov.in पर लॉगिन कर पंजीकरण किया जा सकता है। इसके अलावा व्हाट्सएप नंबर-8394833833 पर yatra (यात्रा) लिख कर मैसेज करके भी पंजीकरण कर सकते हैं। जो यात्री वेबसाइट पर पंजीकरण नहीं कर पाते हैं, उनके लिए पर्यटन विभाग ने टोल फ्री नंबर- 0135-1364 पर कॉल करने पर पंजीकरण की सुविधा दी है। साथ ही स्मार्ट फोन पर touristcarerttarakhand मोबाइल एप से पंजीकरण कर सकते हैं।

वहीं बता दें कि प्रदेश में आगामी 10 मई से चारधाम यात्रा का आगाज हो जाएगा। केदारनाथ, यमुनोत्री और गंगोत्री धाम के कपाट 10 मई को भक्तों के लिए खोले जायेंगे। बद्रीनाथ धाम के कपाट 12 में को खुलेंगे। केदारनाथ धाम के कपाट 10 मई को सुबह अभिजीत मुहूर्त में 7:00 बजे खोले जाएंगे। अक्षय तृतीया तिथि होने के कारण श्री यमुनोत्री धाम के कपाट इसी दिन रोहिणी नक्षत्र में 10:29 पर खुलेंगे। गंगोत्री धाम के कपाट दोपहर 12:25 पर खोले जाएंगे। बद्रीनाथ धाम के कपाट 12 मई को सुबह 6:00 बजे श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए जाएंगे। वहीं पंच केदारों में से एक तृतीय केदार तुंगनाथ जी के कपाट 10 मई को और पंच बद्री में भविष्य बद्री के कपाट 12 मई को खोले जायेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here