उत्तराखंड में भी सड़को पर युवा, अग्निपथ योजना के विरुद्ध आक्रोश…

0
13

देहरादून: वीरों की भूमि उत्तराखंड में भी मोदी सरकार की अग्निपथ योजना का विरोध हो रहा है। योजना के ऐलान बाद से सेना में भर्ती का सपना संजोए युवा सड़को पर है। धरना-प्रदर्शन, आंदोलन कर रहे हैं। देश के कई राज्यों के साथ ही उत्तराखंड के कई जिलों से प्रदर्शन की खबरें आ रही है। हल्द्वानी में प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया है तो वहीं हर जिले में पुलिस युवाओं से इस योजना के तहत भर्ती की अपील कर रही हैं और बहकावे न आने की बात कर रही हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार देहरादून, हरिद्वार और हल्द्वानी खासतौर पर युवा विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं अब कांग्रेस भी मुद्दे को लेकर विरोध प्रदर्शन करने उतर गई है। पार्टी ने शुक्रवार को योजना का विरोध कर रहे युवाओं पर हल्द्वानी में लाठीचार्ज किए जाने को लेकर सरकार का पुतला फूंका। हरिद्वार में युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पत्रकार वार्ता कर अग्निपथ योजना का विरोध किया। कहा कि 17 से 25 साल के साढ़े चार करोड़ युवा फौज की तैयारी कर रहे, उन्हें सरकार कहां से नौकरी देगी?

इससे पहले हल्द्वानी में अग्निपथ योजना को लेकर शुक्रवार को प्रदर्शन करने उतरे। जिसके बाद इन प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने लाठियां चलाई। सरकार के विरोध में नारेबाजी करते हुए युवाओं ने तिकोनिया चौराहे पर पर जाम लगाया तो वहीं चंपावत उपचुनाव में जिन युवाओं ने सीएम धामी को बंपर वोटों से जिताया वो ही आज मोदी सरकार के विरोध में उतर आये हैं। युवाओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ हल्ला बोलते हुए पीएम मोदी के पोस्टर, बैनरों को फाड़ डाला। इस दौरान इन प्रदर्शनकारी युवाओं ने केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार की तरफ से सेना में 4 साल के लिए भर्ती स्कीम अग्निपथ को लेकर बिहार से शुरू हुए बवाल की चिंगारी देश के 10 राज्यों में फैल गई है। बिहार, यूपी, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, मध्य प्रदेश, हिमाचल, झारखंड, उत्तराखंड, दिल्ली और पश्चिम बंगाल में युवा सड़क पर उतरकर आंदोलन कर रहे हैं। युवाओं का साफ कहना है कि सरकार सेना भर्ती की पुरानी प्रक्रिया को बहाल करें।

उत्तराखंड में भी सड़को पर युवा, अग्निपथ योजना के विरुद्ध आक्रोश…

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY