राज्य स्थापना दिवस पर स्कूल में पौधारोपण कार्यक्रम आयोजित

0
20

देहरादून । राज्य स्थापना दिवस रामकृष्ण एकेडमी स्कूल में औषधीय पौधों का रोपण कर मनाया गया। इस मौके पर स्कूल के निदेशक परमेन्द्र डबराल ने कहा कि अपने प्राकृतिक सौन्दर्य से ओतप्रोत उत्तराखण्ड के अस्तित्व में आने के बाद यहां भौतिक विकास की बाढ़ सी आ गयी है। जिसके चलते उत्तराखण्ड के प्राकृतिक सौन्दर्य पर विपरीत असर देखने को मिला। प्रदेश की राजधानी देहरादून खुद अब कंकक्रिट के जंगलों में तब्दील हो गयी।
उत्तराखण्ड जैसे प्राकृतिक इलाके में पर्यावरण प्रदूषण गंभीर समस्या बनकर उभर रहा है। उन्हांेने कहा कि यदि हमे उत्तराखण्ड के प्राकृतिक स्वरूप को जीवित रखना है तो हमे पर्यावरण संरक्षण को अपने जीवन आचरण में उतारना होगा। डबराल ने कहा कि राज्य गठन के बाद भौतिक विकास की होड में उत्तराखण्ड का वन क्षेत्र लगातार घट रहा है। जिससे इस राज्य में पर्यावरण संतुलन गड़बड़ा गया है। इसलिए प्रत्येक प्रदेशवासी को चाहिए कि वे पर्यावरण को बचाने के लिए अधिक से अधिक पौधरोपण कार्यक्रमों में अपना योगदान दे। उत्तराखण्ड में पर्याप्त मात्रा में औषध्ीय जडी बुटिंया भी पाई जाती है। जोकि पूरे मानव समाज के लिए जीवन दायनी साबित हो रही है। इनका संरक्षण और संर्वधन भी प्रदेशवासियों की प्रमुख जिम्मेदारी है। राज्य स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में ं स्कूल के निदेशक परमेंद्र डबराल व प्रधानाचार्य किरन डबराल सांथ में विद्यालय के गुरुजनों के सांथ पत्रकार कैलाश जोशी व उनके पुत्र कृष जोशी ने भाग लिया था।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY