“हिलटॉप” के उत्पादन से उद्योगों का पहाड़ चढ़ने का सिलसिला शुरू ..

0
285
“हिलटॉप” के उत्पादन से उद्योगों का पहाड़ चढ़ने का  सिलसिला शुरू..
देवप्रयाग के पास डडुआ- भण्डाली के पास स्थापित विन्देश्वरी एक्सिम प्राइवेट लिमिटिड के शराब के बॉटलिंग प्लान्ट से हिलटॉप व्हिस्की और ब्लू नाईट रम मार्केट में उतरने के बाद सोशल मीडिया में कई चर्चायें गर्म हैं,कोई कह रहा है कि शराब से पहाड़ बर्बाद हो जायेगा,तो कोई इसे देवप्रयाग जो कि गँगा के संगम के लिये जाना जाता है,की धार्मिक आस्था पर चोट इसे बता रहा है,पूर्ववर्ती काँग्रेस सरकार के शासन काल में मुख्यमन्त्री हरीश रावत को शराब की डेनिश ब्राण्ड से जोड़ा गया,तो अब मौजूदा मुख्यमन्त्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत की भी देवप्रयाग जैसे  धार्मिक इलाक़े में शराब की फैक्ट्री खोले जाने को लेकर आलोचना हो रही है,लेकिन जमीनी हक़ीक़त यह है कि देवप्रयाग के इस प्लांट से इस इलाके के लोगों,जिन्होंने अपनी जमीन औने -पौने दाम पर उद्योग लगाने को दी है,को प्रत्यक्ष रूप से यँहा रोज़गार मिला हुआ है,ये कड़वा सच है कि शराब हमारी संस्कृति में यूँ रच बस गयी है कि बिना इसके शादी-ब्याह से लेकर हर काम अधूरा माना जाता है,हमारे पलायन से सूने पड़े बाजारों में अगर किसी दुकान में सबसे ज्यादा भीड़ नज़र आती है तो वह शराब की ही दुकान होती है,दुकान खुलने पर दिक्कत नहीं, शहरों में एफएलटू गोदामों से  दिक्कत नहीं,तो अब शराब का बॉटलिंग प्लान्ट लगने पर हाय-तौबा क्यों,उत्तराखण्ड बनने के बाद सत्ता में आने वाली सरकारें पहाड़ो में कृषि,पशुपालन,फल उद्यान आदि जैसे पहाड़ों के पारम्परिक कारोबारों से रोजगार पैदा करने में विफल रही हैं,अगर वो ऐसा करनें में सफल रहतीं तो पड़ोसी राज्य हिमांचल प्रदेश की तर्ज पर यंहा भी लोगों को रोज़गार मिलता, हिमांचल प्रदेश के सोलन में भी शराब की फैक्ट्री स्थापित हैं,तो क्या वे बर्बाद हो गये?भूमध्यसागर के आसपास के कई देश जिसमें अंगूर की खूब बढिया खेती होती है ,”वे सूर्य अस्त और पहाड़ मस्त” के सिद्धांत पर काम नहीं करते,वे शराब बनाते भी हैं और उसे बेचकर माला माल भी  होते हैं और एक हम हैं जिन्हें सिर्फ़ बबाल काटना आता है,शराब पीजिये मगर कॉम के बाद थकान मिटाने को थोड़ी सी ,बोतल में न डूबिये,ज़ीरो इंडस्ट्री एरिया है अपना पहाड़ लगने दीजिये उद्योग या फ़िर “पलायन पर चर्चा”ही करेंगें हम,फिर देखिये एक दिन हिल टॉप पर पक्का पहुँचेगा।
https://youtu.be/-PDwzV7IP6s

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY