नयारघाटी की उड़नपरियों सरिता और सपना ने जगाई पैराग्लाइडिंग में रोजगार की आस..

0
388

नयारघाटी की उड़नपरियों सरिता और सपना ने जगाई पैराग्लाइडिंग में रोजगार की आस..
भगवान सिंह,जागो ब्यूरो रिपोर्ट:

सतपुली के नज़दीक नयारघाटी में बिलखेत नाम की जगह पर साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने की पहल धीरे धीरे रंग ला रही है, सब कुछ ठीक रहा तो पौड़ी ज़िले की नयारघाटी में साहसिक पर्यटन, रोजगार का एक मजबूत जरिया बन जाएगा,पर्यटकों से ओझल बिलखेत के मैदाननुमा खेतों में इस सुंदर स्थल पर साहसिक खेलों का रोमांच देखते ही बनेगा!साथ ही स्थानीय लोगो के लिए रोजगार के अवसर भी बढेंगे,स्थानीय युवक,युवतियों को रोजगार से जोड़ने के उद्देश्य से बिलखेत से चार अक्टूबर को दो युवतियों व छः युवकों की टीम को ग्यारह दिवसीय पैराग्लाइडिंग ट्रेनिंग के लिए हिमाँचल प्रदेश के कांगड़ा भेजा गया,जहाँ पर इनको पैराग्लाइडिंग के सभी गुर सिखाए गये।कुछ दिन पहले बिलखेत की सामान्य घरों की बालिकाओं सरिता और सपना ने पैराग्लाइडिंग ट्रेनिंग के दौरान एक सफल उड़ान भरी,उड़ान के बाद दोनों बालिकायें अपने भविष्य के प्रति काफी उत्साहित दिखी, ये दोनों शिवानी गुसाईं के बाद पैराग्लाइडिंग के क्षेत्र में नाम रोशन करने वाली पौड़ी की दूसरी बालिकाएं हैं,पिछले कई महीनो से साहसिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए नयारघाटी क्षेत्र में कयाकिंग, पैराग्लाइडिंग, पैरा मोटर्स आदि के ट्रॉयल भी चल रहे है,जिससे पौडी जिले का नयारघाटी क्षेत्र साहसिक पर्यटन का हब बनने से,यहाँ के स्थानीय लोगों के लिये पर्यटन से रोजगार के अवसरों में बढोत्तरी होगी,साथ ही उनके आय के साधन बढेंगे, जिसमें स्थानीय होटल और ट्रांसपोर्ट व्यवसायियों को भी बड़ा लाभ मिलने की संभावना है,इन सारी योजनाओं के क्रियान्वयन के लिये प्रोएक्टिव होकर काम कर रहे पौडी के डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल कहते हैं कि पैराग्लाइडिंग ट्रेनिंग पर हिमाँचल गयी टीम के लौटने के बाद इन्हें हिमालयन ऐरोस्पोर्ट्स एसोसिएसन में एडवांस ट्रेनिंग के लिए भी भेजा जायेगा,उन्होंने बताया कि जिला योजना में साहसिक पर्यटन के लिए विशेष बजट रखा गया है,जिससे पौडी जिले में 20 पैराग्लाइडिंग पाइलेट बनाये जायेंगे,जिसमें एक पाइलेट पर करीब पचास हजार का खर्चा आयेगा!सब कुछ प्लानिंग के हिसाब से चला तो जल्द ही नयारघाटी की सरिता और सपना,शिवानी गुसाईं के बाद पौडी जिले की दूसरी पैराग्लाइडिंग पाइलेट बनकर हमारे सामने होंगी! इसी सिलसिले में आगामी नवम्बर माह में नयारघाटी में एडवेंचर फेस्टिवल मनाने की भी योजना है,नयारघाटी में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए सतपुली में बासा की तर्ज पर गेस्ट हाउस का निर्माण भी किया जा रहा है,जिसमें पर्यटकों को एंगलिंग भी करायी जायेगी कुल मिलाकर अगर देखा जाय तो पौड़ी का पर्यटन पहली बार सही तरीके से विकसित होता दिखाई दे रहा है।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY