पौड़ी में कोरोना से पहली मौत!ग्रामीण क्षेत्रो में सामुदायिक कोरोना संक्रमण का बढ़ा खतरा…

0
562

पौड़ी में कोरोना से पहली मौत,ग्रामीण क्षेत्रो में सामुदायिक कोरोना संक्रमण का बढ़ा ख़तरा…
जागो ब्यूरो रिपोर्ट:

प्रवासियों को उनके गाँवों में ही क्वारंटाइन करने का सरकार का निर्णय गलत साबित होने लगा है,
पौड़ी जिले में कोरोना से पहली मौत हुई है,जिसकी आधिकारिक पुष्टी सीएमओ पौड़ी ने की है,कोरोना से संक्रमित यह व्यक्ति गाजियाबाद से लौटा था,जिसे पाबौ ब्लाक के क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था,लेकिन इस व्यक्ति ने 22 मई को क्वारंटाइन सेंटर में दम तोड दिया,तब तक स्वास्थ विभाग इस बात से अंजान था कि व्यक्ति की मौत कोरोना से हुई है,अब इस व्यक्ति के सैंपल कोरोना पाजिटिव पाया गया है,जिसने स्वास्थ विभाग की नींद को उडाकर रख दिया है,युवक को सामुदायिक स्वास्थ केन्द्र पाबौ ले जाने के बाद पौड़ी जिला चिकित्सालय पोस्टमार्टम के लिये लाया गया था,वहीं इसके साथ ही आज ही पौड़ी में दो और महिलाएं कोरोना पाजिटिव पायी गयी है,जो एकेश्वर ब्लॉक और पॉबो ब्लॉक की हैं,इनके गाँवों को सील करने के अलावा नौगाँवखाल जैसे छोटे बाजारों को संक्रमण बढ़ने की संभावना के चलते प्रशासन ने बन्द करा दिया है,दोनों महिलाओं को पौड़ी के आईशोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है,ये महिलाये गुरूग्राम हरियाणा और दिल्ली से लौटी थी,जिनकी उम्र 75 वर्ष और 53 वर्ष बतायी गयी है,दोनों महिलाओं के कोरोना संक्रमित होने और जिस युवक की मौत हुई है,उसकी रिर्पोट कोरोना पाजिटिव मिलने से जनपद पौड़ी में कोरोना पॉजिटिव का आँकड़ा दस जा पहुंचा है,कोरोना के तीन मामलों पर अब इन सभी की ट्रैवल हिस्ट्री की तहकीकात भी जा रही है,वहीं अब तक जनपद में केवल एक की व्यक्ति कोरोना से स्वस्थ हो पाया है,सीएमओ पौड़ी ने बताया कि जिस क्वारंटाइन सेंटर में मृतक व्यक्ति रह रहा था और जिस क्षेत्र में महिलाएं कोरोना पॉजिटिव पायी गयी हैं, उन क्षेत्रों में स्वास्थ विभाग और जिला प्रशासन की टीम को मुआयाना करने के लिये भेज दिया गया है,आगे इन क्षेत्रों में क्या कदम उठाये जायेंगे ये स्वास्थ विभाग के मुआयने के बाद ही तय किया जायेगा! “जागो उत्तराखण्ड” आप सभी से अनुरोध करता है कि बाहरी राज्यों/जनपदों से आने वाले व्यक्ति, ख़ुद को अपने घर /क्वारंटाइन सेंटर में ख़ुद ही आइसोलेट करके अपने स्थानीय रिश्तेदारों-भाई-बहनों,बुजुर्गों से ख़ुद भी दूरी बनाकर कोरोना संक्रमण की संभावना को न्यूनतम करें और स्थानीय निवासी भी अपने इलाके में कुछ दिन पहले आये बाहर से आये अजनबी व्यक्तियों से सम्बंधित किसी भी असामान्य घटनाक्रम को तत्काल प्रशासन,अपने प्रधान/पटवारी या स्थानीय स्तर पर सक्रिय मीडिया को सूचित कर कोरोना के ख़िलाफ़ निर्णायक जंग में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here