SSP Doon takes action on Jago Uttarakhand’s news on illegal parking of DD Motors on busy road

0
232

“जागो उत्तराखण्ड”की ख़बर का असर…
दून पुलिस कप्तान निवेदिता कुकरेती ने लालपुल तिराहा-कार्गी चौक सड़क पर डी डी मोटर्स की अवैध पार्किंग पर लिया एक्शन..

“आज दिनांक 26 .5.18 को चौकी बाजार थाना पटेल नगर पुलिस द्वारा महंत इंद्रेश रोड पर डीडी मोटर्स के द्वारा सड़क पर खड़ी की गई वाहनों का चालान किया गया तथा सड़क पर अवैध तरीके से खड़े वाहनों को हटवाया गया तथा हिदायत दी गई कि भविष्य में कभी भी सार्वजनिक सड़क पर DD मोटर्स द्वारा यहां वाहन खड़े ना किए जाएं”-निवेदिता कुकरेती,एसएसपी देहरादून

ये था मामला..

राजधानी दून में व्यस्त सड़क पर कार कम्पनी की अवैध पार्किंग से लगने वाला जाम बना मुसीबत…

देहरादून में जँहा एक ओर दून पुलिस ट्रैफिक व्यवस्था को दुरस्त करने में ऐड़ी चोटी का जोर लगा रही है,वंही शहर के कई भीड़ भाड़ वाले इलाकों में सड़क किनारे अवैध तरीके से दिन रात खड़े वाहन दून पुलिस के लिए सिरदर्द बने हुए हैं,इन्ही में से एक है पटेल नगर लाल पुल तिराहा से कार्गी चौक मोटर मार्ग ,इस इलाके में महन्त इन्द्रेश अस्पताल,लोकायुक्त कार्यालय ,बीएसएनएल कार्यालय,कई शैक्षणिक सँस्थान समेत कई राष्ट्रीय स्तर के समाचार पत्रों के दफ़्तर भी हैं,ज्यादातर लोग इस मार्ग को आईएसबीटी और आढ़त बाजार में लगने वाले जाम से बचने के लिए भी इस्तेमाल करते हैं,जिस वजह से ये इलाक़ा लगातार व्यस्त रहता है और जाम न लगे इसके लिए पुलिस इन्द्रेश अस्पताल जाने वाले आगन्तुकों को भी सड़क किनारे वाहन पार्क नहीं करने देती,लेकिन इसी जगह पर वर्षों से डीडी मोटर नाम की कार कम्पनी अवैध तरीके से दर्जनों की संख्या में अपनी प्री ओन्ड एक्सीडेंटल कारों को पार्क कर सड़क को अतिक्रमित कर जाम लगने की मुख्य वजह बनी हुयी है,इलाके के लोगों का कहना है कि सुबह सुबह मॉर्निंग वाक पर निकलने पर,सड़क किनारे अवैध तरीके से खड़ी ये एक्सीडेंटल कारें न केवल कानून का मज़ाक उड़ाती हैं,वरन इलाके की सुन्दरता पर बदनुमा दाग की तरह सुबह सुबह अच्छे भले मूड को भी ख़राब करती हैं, इस कम्पनी के हौसले इतने बुलन्द हैं कि पुलिस के नो पार्किंग के साइन बोर्ड का भी मज़ाक उड़ाते हुए यंहा पर चौबीसों घण्टे वाहन खड़े रहते हैं ,अगर इस कार कम्पनी के बजाय किसी निजि व्यक्ति का वाहन यंहा थोड़ी देर भी खड़ा रहता तो न केवल उसका चालान किया जाता,वरन ट्रैफिक पुलिस उस वाहन को उठवा के थाने में खड़ा करवा देती ,अगर दून पुलिस वाकई ईमानदारी से शहर की ट्रैफिक व्यवस्था को पटरी पर लाना चाहती है,तो इन बड़ी मछलियों पर भी कार्यवाही करे..

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY