Still no punishment for corrupt education officers after 48 hours of disclosure ,unemployed guest teacher’s agitation continues at education directorate…

0
401

नौकरी के नाम पैसा लेते उत्तराखण्ड के अफसर ,सोते जिम्मेदार अधिकारी- सरकार, दूसरी ओर शिक्षा निदेशालय में बेरोज़गार हुये अतिथि शिक्षकों का धरना जारी
जागो ब्यूरो,देहरादून
पौड़ी के मुख्य शिक्षा अधिकारी मदन सिंह रावत और जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक हरे राम यादव का पैसा लेते और नियुक्ति के नाम पर भ्रष्टाचार करने के “जागो उत्तराखण्ड” द्वारा खुलाशा करने के 48 घण्टे बाद भी अभी तक दोषी अधिकारी निलम्बित नहीं हुये हैं ,जबकि अब प्रदेश के सभी प्रमुख मीडिया चैनल,अख़बार और न्यूज़ पोर्टल यह सनसनीखेज़ मामला प्रमुखता से प्रसारित कर चुके हैं ,”जागो उत्तराखण्ड’ लगातार विभागीय अधिकारियों और विभागीय मन्त्री से सम्पर्क करने की कोशिश कर रहा है ,लेकिन सब कैमरे से मुँह छुपाते फिर रहे हैं ,उधर देहरादून स्थित शिक्षा निदेशालय में बीस सितम्बर से माध्यमिक अतिथि शिक्षक संघ का धरना जारी है,संघ के प्रतिनिधियों का आरोप है कि,उच्च न्यायालय द्वारा एक महीने में उनकी नियुक्ति प्रक्रिया आरम्भ किये जाने का आदेश दिये जाने के बावजूद,ज़िम्मेदार अधिकारी और सरकार उनकी ओर कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं ,जबकि कुछ दिन पूर्व सरकार के प्रवक्ता मदन कौशिक ने आश्वासन दिया गया था,कि अतिथि शिक्षकों के लिये कैबिनेट में प्रस्ताव लाया जायेगा,लेकिन कैबिनेट बैठक रद्द होने से उन्हें निराशा ही हाथ लगी है,धरने पर बैठे युवा पौड़ी जनपद के सीईओ और डीईओ के अशासकीय विद्यालय में नियुक्ति हेतु पैसे लेते हुये वीडियो को देख भी आक्रोशित हैं,उनका कहना है कि एक ओर शिक्षा विभाग के बड़े अधिकारी मोटी तनख्वाह के बाबजूद युवाओं की नियुक्ति में पैसे का लेन-देन कर भ्रष्टाचार कर रहे हैं,वंही उनके लिए सरकार के पास नौकरी नहीं है,धरने पर मौजूद युवाओं में राकेश लाल,राजेश ध्यानी,राजपाल रावत,हरीश आर्य,महावीर चौहान,विपिन सकलानी,बृजेश व्यास,विमल सती,अनिल चौहान,सुमित खत्री,रजनी,भावना ठाकुर,नरेंद्र राम,रमेश रमोला आदि मौजूद थे,शिक्षकों ने शिक्षा मन्त्री, निदेशक और सचिव को अपना माँग पत्र भी प्रेषित किया

 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY